Posted by Nalin Mehra on 12:03 AM

मेरा गम और मेरी हर खुशी तुमसे है,

यह दिल का दर्द और सुकून की मोजूदगी तुमसे है,

बंद आँखें और भरोसा है तुमपे बेंतेहा,

जिंदगी की अँधेरी राहों में रौशनी अब तुमसे है।

नलिन

0 comments:

Search